भारत में अब प्राइवेट कंपनियां चलाएंगी ट्रेनें,जानिए पहला रुट

img1

इंडियन रेलवे एशिया का सबसे बड़ा रेल नेटवर्क है.लोग करोड़ों लोग इंडियन रेलवे के ट्रेन से सफर करते है.इंडियन रेलवे भारत सरकार के अंतर्गत आती है,मगर अब रेलवे का भी निजीकरण होने जा रहा है.वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने 5 जुलाई को बजट पेश करते हुए कहा था कि रेलवे के विकास और विस्तार के लिए अगले 10 सालों में 50 लाख करोड़ रुपये की जरूरत है.इतने बड़े निवेश के लिए प्राइवेट कंपनी का साथ जरुरी है.

न्यूज एजेंसी PTI के मुताबिक दिल्ली से लखनऊ के बीच तेजस एक्सप्रेस देश की पहली ट्रेन होगी जिसका संचालन प्राइवेट कंपनी करेगी. रेलवे एक और रूट पर प्राइवेट ट्रेन चलाने के लिए तेजी से काम कर रहा है.इंडियन रेलवे और दूसरे रुट पर भी प्राइवेट कंपनी के साथ मिलकर ट्रेन चलने के मूड में है.इन रूटों की दुरी भी कम से कम 500 किलोमीटर की होगी.

दिल्ली से लखनऊ जाने वाली तेजस ट्रेन की आधिकारिक घोषणा साल 2016 में ही कर दी गई थी मगर ये ट्रेन अभी तक चल नहीं पाई है.ख़बरों की माने तो वर्तमान में यह ट्रेन उत्तर प्रदेश के आनंद नगर रेलवे स्टेशन में पार्क है. बोली प्रक्रिया पूरी होने के बाद इस ट्रेन को प्राइवेट कंपनी के हाथों में सौंप दी जाएगी.

Promoted Content

List your business

We'll never share your email with anyone else.